Patna में DRI की टीम ने छापेमारी में पकड़ा 30 किलो विदेशी सोना, ऐसे होती थी तस्करी

Patna में Muzaffarpur DRI की टीम ने बड़ी कार्रवाई की है. राजस्व आसूचना निदेशालय ने बुधवार को विदेशी गोल्ड बिस्किट का बड़ा खेप पकड़ा है. ऑपरेशन ‘गोल्ड रश’ के तहत डीआरइ महाराष्ट्र, दिल्ली और मुजफ्फरपुर की क्षेत्रीय टीम ने कार्रवाई की. नार्थ-ईस्ट देशों से मुम्बई-पटना-दिल्ली में तस्करी कर लाया गया था. ये अब तक की सबसे बड़ी बरामदगी होने का दावा किया गया है.

डीआरआई को जानकारी मिली थी कि मिजोरम के रास्ते बड़े पैमाने पर सोने की तस्करी कर एक बड़ा कंसाइनमेंट हिन्दुस्तान आने वाला है. जिसके बाद ऑपरेशन गोल्ड रश शुरू किया गया. डीआरआई ने ऑपरेशन ‘गोल्ड रश’ के तहत करीब साढ़े 33 करोड़ रुपये के सोने के बिस्किट पकड़े हैं. करीब 65.46 किलो सोने की खेप पकड़ी. तस्करी के लिए डोमेस्टिक कूरियर और लॉजिस्टिक कंपनी का इस्तेमाल किया गया. सोने की ये खेप अलग-अलग तरह के घरेलू सामान में छिपाकर लाई गई थी.

मुजफ्फरपुर की टीम ने किया पटना में रेड

डीआरआइ के अनुसार, ‘ऑपरेशन रश’ के तहत टीम ने महाराष्ट्र के भिवंडी से सोने के 120 बिस्किट पकड़े. जिनका वजन करीब 19.93 किलो आंकी गयी. जिसकी अनुमानित कीमत करीब 10.18 करोड़ रुपये बतायी गयी है. इसके अलावा जांच में पता चला कि विदेश से मिजोरम गोल्ड बिस्किट पहुंचा. फिर वहां से मुम्बई भेजा गया. इसी कंसाइनमेंट की दूसरी खेप दिल्ली और पटना कूरियर के जरिये डिस्पैच की गई हैं. जिसके आधार पर मुजफ्फरपुर डीआरआइ की टीम ने पटना में गांधी सेतु के पास डोमेस्टिक कूरियर और लॉजिस्टिक कंपनी के वेयरहाउस पर रेड कर 172 सोने के बिस्किट जिनका वजन करीब 15 किलो और कीमत करीब साढ़े 15 करोड़ रुपये है.

394 सोने के बिस्किट किए जब्त

इसी कंसाइनमेंट की तीसरी खेप दिल्ली (दिल्ली) से पकड़ी गई. यहां से 102 सोने के बिस्किट पकड़ी गयी. जिसका वजन 16.96 किलो और कीमत करीब 8.69 करोड़ रुपये आंकी गयी है. इस तरह कुल 394 सोने के बिस्किट जब्त किए गए जिनका वजन 65.46 किलो और कुल कीमत करीब 33.40 करोड़ रुपये आंकी गई.